राजद का घोषणापत्र जारी, एक करोड़ बेरोजगार युवाओं को सरकारी नौकरी देने का वादा |

राजद का घोषणापत्र जारी, एक करोड़ बेरोजगार युवाओं को सरकारी नौकरी देने का वादा

राजद का घोषणापत्र जारी, एक करोड़ बेरोजगार युवाओं को सरकारी नौकरी देने का वादा

:   Modified Date:  April 13, 2024 / 01:05 PM IST, Published Date : April 13, 2024/1:05 pm IST

पटना, 13 अप्रैल (भाषा) बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री एवं राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नेता तेजस्वी यादव ने लोकसभा चुनाव के लिए शनिवार को पार्टी का घोषणापत्र जारी किया जिसमें देश भर में एक करोड़ बेरोजगार युवाओं को सरकारी नौकरी और रक्षाबंधन पर गरीब परिवारों की ‘बहनों’ को प्रति वर्ष एक लाख रुपये देने का वादा किया गया है।

राजद ने अपने घोषणपत्र को ‘‘परिवर्तन पत्र’’ नाम दिया है। राजद के परिवर्तन पत्र में जनता से 24 वादे किए गए हैं।

यादव ने यहां घोषणापत्र जारी करने के दौरान कहा ‘‘हमने आज परिवर्तन पत्र जारी किया है, हम 2024 के चुनावों के लिए 24 वचन लेकर आए हैं। बिहार के विकास के लिए आज हम जो भी वादा करेंगे उसे पूरा करेंगे।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम लोग जो वादा करते हैं उसे पूरा करके दिखाते हैं। 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव के समय हम लोगों ने जितने भी वादे किए थे उसे अपने 17 महीने के कार्यकाल (बिहार की पिछली महागठबंधन सरकार) के दौरान पूरा करने की कोशिश की ।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमने पांच लाख सरकारी नौकरी की व्यवस्था की । जाति आधारित गणना कराई और आरक्षण की सीमा को बढ़ाकर 75 प्रतिशत किया ।’’

यादव ने कहा कि केंद्र में विपक्षी गुट ‘‘इंडिया’’ की सरकार बनने पर देश भर में एक करोड़ बेरोजगार युवाओं को एक करोड़ सरकारी नौकरी प्रदान की जाएगी ।

राजद नेता ने कहा, ‘‘इस साल रक्षाबंधन के मौके पर हम गरीब परिवारों की अपनी बहनों को सालाना एक लाख रुपये देना शुरू करेंगे।’’

घोषणापत्र में सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना लागू करने और एलपीजी सिलेंडर 500 रुपये में देने का भी वादा किया गया है।

उन्होंने कहा कि पूरे देश में वर्तमान में 30 लाख से अधिक सरकारी पद रिक्त हैं जिनको भरने के साथ-साथ 70 लाख पद सृजित किए जाएंगे।

यादव ने कहा, ‘‘हमारी सरकार बनने पर अगले 15 अगस्त से देश को बेरोजगारी से आजादी मिलनी शुरू हो जाएगी । हम लोगों का प्रण है कि आगामी 15 अगस्त से देश को बेरोजगारी से आजादी दिलाने के साथ-साथ इसी दिन से नौकरी देने की प्रक्रिया शुरू कर देंगे।’’

घोषणापत्र में बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने का भी वादा किया गया है। राजद के घोषणापत्र में आगामी पांच वर्षों में बिहार में चौमुखी विकास के लिए एक लाख 60 हजार करोड़ की विशेष वित्तीय सहायता दिए जाने, बिहार की तर्ज पर देश भर में जातिगत गणना कराए जाने, आरक्षण की सीमा बढाकर 75 प्रतिशत किए जाने, अग्निवीर योजना को निरस्त करते हुए सेना में स्थायी नियोजन सुनिश्चित किए जाने तथा 2014 के पूर्व की भांति सेना में भर्ती प्रक्रिया में तेज़ी लाए जाने तथा ड्यूटी के दौरान अर्धसैनिक बलों के जवान की शहादत के पश्चात उन्हें भी शहीद का दर्जा देने की बात कही गई है।

राजद के घोषणा पत्र में रेलवे में नियुक्ति को 2014 के पूर्व के मानकों पर ले जाकर इसे दोगुनी करते हुए युवाओं को नौकरी के अवसर प्रदान किए जाने तथा बुजुर्गों और बच्चों सहित अन्य वर्गों को टिकट में रियायत पुनः बहाल किए जाने जैसे अनेक वादे किए गए हैं।

भाषा अनवर शोभना

शोभना

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers