माधवी राजे सिंधिया का ग्वालियर में अंतिम संस्कार किया गया |

माधवी राजे सिंधिया का ग्वालियर में अंतिम संस्कार किया गया

माधवी राजे सिंधिया का ग्वालियर में अंतिम संस्कार किया गया

:   Modified Date:  May 16, 2024 / 09:45 PM IST, Published Date : May 16, 2024/9:45 pm IST

ग्वालियर, 16 मई (भाषा) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता और केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की मां माधवी राजे सिंधिया का बृहस्पतिवार शाम मध्य प्रदेश के ग्वालियर में अंतिम संस्कार किया गया।

ग्वालियर के पूर्व राजघराने की राज माता 76 वर्षीय माधवी राजे का बुधवार सुबह दिल्ली के एक अस्पताल में निधन हो गया था और उनका पार्थिव शरीर बृहस्पतिवार को एक विशेष विमान से राष्ट्रीय राजधानी से ग्वालियर लाया गया।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वी डी शर्मा, राज्य के मंत्री प्रहलाद पटेल, कैलाश विजयवर्गीय, तुलसी सिलावट, प्रद्युम्न सिंह तोमर और पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा अंतिम संस्कार में शामिल हुए।

अंतिम संस्कार यहां ‘अम्मा महाराज की छत्री’ में किया गया, जहां ग्वालियर के पूर्व शाही परिवार के सदस्यों का अंतिम संस्कार किया जाता है।

यहां जय विलास पैलेस स्थित रानी महल से माधवी राजे के पार्थिव देह को श्मशान घाट लाया गया। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी मां की चिता को मुखाग्नि दी।

इस मौके पर उनके अंतिम दर्शन के लिए हजारों लोग मौजूद थे। दिन में उनके पार्थिव शरीर को दिल्ली से लाए जाने के बाद, इसे रानी महल में रखा गया ताकि लोग उन्हें श्रद्धांजलि दे सकें।

सूत्रों ने बताया कि नेपाल के शाही परिवार और देश की पूर्व रियासतों के सदस्य भी अंतिम संस्कार में शामिल हुए।

माधवी राजे का बुधवार सुबह दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में निधन हो गया था। वह निमोनिया और सेप्सिस से पीड़ित थीं और पिछले तीन महीने से प्रमुख अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था।

नेपाल के शाही परिवार से ताल्लुक रखने वाली माधवी राजे ने 1966 में पूर्व केंद्रीय मंत्री दिवंगत माधवराव सिंधिया से शादी की थी। उनके परिवार में बेटे ज्योतिरादित्य सिंधिया के अलावा उनकी बेटी चित्रांगदा राजे सिंह हैं।

भाषा सं दिमो नोमान

नोमान

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers