बेटे की हसरत में बाप बना हैवान, चीख पड़ी मां जब तीन माह की मासूम बेटी को देखा दर्द से तड़पते, जानिए पूरा मामला

बेटे की हसरत में बाप बना हैवान, चीख पड़ी मां जब तीन माह की मासूम बेटी को देखा दर्द से तड़पते, जानिए पूरा मामला

Edited By: , June 7, 2021 / 06:11 PM IST

भिंड: कहते हैं कि बाप… बरगद की तरह होता है, जिसकी छांव में उम्मीदें पलती हैं। आस और हिम्मत बंधती है। दिल पर विश्वास और आत्मविश्वास की दरो-दीवार खड़ी होती हैं। लेकिन आज बात एक ऐसे बाप की, जो बेरहम था। जो बेगैरत था। जो कातिल था, अपनी ही घर की खुशियों का। बीवी के प्रेगनेंट होते ही बेटे की हसरत पालने वाले दरिंदे के घर जब खुशियों की बेटी जगमगाई, तो उसकी आंखों में अंधेरा छा गया। फिर क्या हुआ, आइए देखते हैं।

Read More: जांच कमेटी ने सीएम भूपेश बघेल को सौंपी सिलगेर मामले की रिपोर्ट, ग्रामीणों से बात कर तैयार की रिपोर्ट

दरअसल, मामला मध्यप्रदेश के भिंड जिले का है। जहां के भरौली गांव में रहने वाले अनार सिंह राजावत को बेटे की हसरत थी, मगर हो गई बेटी। बेटी पैदा होने पर मासूम की मां शालिनी राजावत तो प्रताड़ना का शिकार हुई ही। हैवान बाप की नजर बेटी की मासूम जिंदगी पर भी थी। उसे बेटी के कत्ल का मौका तब मिल गया, जब शालिनी वॉशरुम गई। लौटते तक मासूम के गले में गहरा घाव था। मुंह से झाग निकल रहा था और वो दर्द से तड़प रही थी। शालिनी के मुताबिक उसके पति ने अपनी बेटी का गला बनियान से कसकर दबा दिया।

Read More: छत्तीसगढ़ में कल के मुकाबले आज बढ़ी कोरोना संक्रमितों की संख्या, मौत का आंकड़ा भी बढ़ा

शालिनी अपनी घायल बेटी को अस्पताल ले जाने के लिए मिन्नतें करती रही, मगर दरिंदा नहीं माना। आखिरकार शालिनी बच्ची को लेकर एसपी दफ्तर पहुंची। एसपी ने तत्काल सभी आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए। मासूम बच्ची अस्पताल में है और खतरे से बाहर है।

Read More: टकराव, मनमुटाव या महज अफवाह…लगातार बैठकों के बाद UP में बदलाव की अटकलें, आखिर सीएम योगी को लेकर चल क्या रहा है?

सरकारें करोड़ों का बजट रख रही हैं कि लोग बेटी बचाएं। समाज जागरुकता अभियान चला रहा है। लेकिन जब तक अनार सिंह जैसे एक भी दरिंदा इस समाज में है। बेटियां महफूज नहीं।

Read More: छत्तीसगढ़ का यह जिला 14 जून तक के लिए कंटेनमेंट जोन घोषित, इन सेवाओं को रहेगी छूट, जिला प्रशासन ने जारी की गाइडलाइन