भाजपा विपक्षी नेताओं का उत्पीड़न करने के लिए केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही : हरीश रावत |

भाजपा विपक्षी नेताओं का उत्पीड़न करने के लिए केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही : हरीश रावत

भाजपा विपक्षी नेताओं का उत्पीड़न करने के लिए केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही : हरीश रावत

:   Modified Date:  March 30, 2024 / 09:31 PM IST, Published Date : March 30, 2024/9:31 pm IST

हरियाणा, 30 मार्च (भाषा) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने शनिवार को सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर विपक्षी नेताओं का उत्पीड़न करने और आगामी लोकसभा चुनावों में उसकी किसी भी चुनौती को खत्म करने के लिए सीबीआई, ईडी, आयकर विभाग और एनआईए जैसी केंद्रीय एजेंसियों का ‘दुरुपयोग’ करने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि देश में भाजपा शासन में लोकतंत्र और संवैधानिक संस्थाएं खतरे में हैं और लोग बदलाव चाहते हैं।

रावत ने कहा, ‘‘सत्तारूढ़ दल ने पहले चुनावी बॉण्ड के नाम पर अपना खजाना भरा और फिर कांग्रेस को पंगु बनाने के लिए उसके खाते और उसे मिले चंदे को भी जब्त कर लिया। अब आयकर विभाग द्वारा नोटिस जारी किए जा रहे हैं।’’

पूर्व मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया, ‘‘विपक्षी दलों पर केंद्र का अत्याचार बढ़ता जा रहा है। वह सीबीआई (केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो), ईडी(प्रवर्तन निदेशालय), आयकर विभाग और एनआईए (राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण) जैसी एजेंसियों का इस्तेमाल कर चुनाव में विपक्ष को रोकने की कोशिश कर रही है।’’

हरीश रावत के पुत्र वीरेंद्र रावत हरिद्वार लोकसभा सीट से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। हरीश रावत अपने बेटे के चुनाव कार्यालय का उद्घाटन करने के बाद संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी (पीसीसी) के पूर्व अध्यक्ष और पौड़ी-गढ़वाल से कांग्रेस उम्मीदवार गणेश गोदियाल को हाल ही में आयकर विभाग ने नोटिस भेजकर ठाणे (महाराष्ट्र) में विभाग के कार्यालय में व्यक्तिगत रूप से पेश होने को कहा था।

हरिद्वार में अपने बेटे के लिए प्रचार कर रहे रावत ने दावा किया कि मतदाताओं का झुकाव कांग्रेस की ओर बढ़ रहा है। उन्होंने कहा,‘‘जब भी सत्ता में रहने वाली पार्टी ज्यादती करती है, तो देश की जनता उसे दंडित करती है। वे उसे सत्ता से हटाते हैं और बदलाव लाते हैं।’’

रावत ने गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी की मौत को भी ‘संदिग्ध’ करार दिया। उन्होंने कहा, ‘‘सरकार के लिए यह साबित करना मुश्किल होगा कि यह प्राकृतिक मौत थी।’’

भाषा धीरज दिलीप

दिलीप

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers