ईडी ने झारखंड के ग्रामीण विकास विभाग के परिसर में छापेमारी की |

ईडी ने झारखंड के ग्रामीण विकास विभाग के परिसर में छापेमारी की

ईडी ने झारखंड के ग्रामीण विकास विभाग के परिसर में छापेमारी की

:   Modified Date:  May 8, 2024 / 04:57 PM IST, Published Date : May 8, 2024/4:57 pm IST

रांची, आठ मई (भाषा) प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को धनशोधन जांच के तहत रांची में झारखंड ग्रामीण विकास विभाग के परिसर में छापा मारा। इस मामले में ईडी ने हाल में भारी मात्रा में नकदी जब्त की थी। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी।

यह छापेमारी झारखंड के मंत्री आलमगीर आलम के निजी सचिव संजीव लाल और उनके घरेलू सहायक जहांगीर आलम से पूछताछ से मिली जानकारी के आधार पर की जा रही है।

दोनों को केंद्रीय एजेंसी ने सोमवार को गिरफ्तार किया था। ईडी ने छह मई को की गई तलाशी के दौरान जहांगीर आलम के परिसर से 30 करोड़ रुपये से अधिक नकदी जब्त करने का दावा किया।

ईडी ने मंगलवार को यहां एक अदालत के समक्ष दावा किया था कि लाल (52) ने कुछ प्रभावशाली लोगों की ओर से ‘‘कमीशन’’ एकत्र किया। ईडी ने यह भी कहा था कि ग्रामीण विकास विभाग के ‘‘ऊपर से नीचे’’ तक के सरकारी अधिकारी कथित अवैध नकद भुगतान में संलिप्त हैं।

ईडी ने दावा किया कि मामले में ‘‘वरिष्ठ नौकरशाहों और नेताओं’’ के नाम सामने आए हैं और इसकी जांच की जा रही है।

धनशोधन का यह मामला सितंबर, 2020 का है। यह झारखंड पुलिस की भ्रष्टाचार निरोधक शाखा (जमशेदपुर) के मामले और राज्य ग्रामीण विकास विभाग के पूर्व मुख्य अभियंता वीरेंद्र कुमार राम एवं कुछ अन्य के खिलाफ दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) द्वारा मार्च 2023 में दर्ज की गई प्राथमिकी पर आधारित है।

भाषा आशीष सुरेश

सुरेश

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers