नीट विवाद: कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन,उच्चतम न्यायालय की निगरानी में जांच कराने की मांग की |

नीट विवाद: कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन,उच्चतम न्यायालय की निगरानी में जांच कराने की मांग की

नीट विवाद: कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन,उच्चतम न्यायालय की निगरानी में जांच कराने की मांग की

:   Modified Date:  June 21, 2024 / 03:03 PM IST, Published Date : June 21, 2024/3:03 pm IST

चंडीगढ़, 21 जून (भाषा) कांग्रेस ने वर्ष 2024 में आयोजित राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा-स्नातक (नीट-यूजी) में कथित अनियमितताओं को लेकर शुक्रवार को यहां विरोध प्रदर्शन किया और उच्चतम न्यायालय के किसी वर्तमान न्यायाधीश की निगरानी में जांच कराने की मांग की।

पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वडिंग (लुधियाना से सांसद) ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा में कथित अनियमितता के खिलाफ पार्टी की राज्य इकाई के प्रदर्शन का नेतृत्व किया।

परीक्षा में कथित अनियमितताओं के खिलाफ चंडीगढ़ युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी विरोध प्रदर्शन किया। परीक्षा पांच मई को 4,750 केंद्रों पर आयोजित की गई थी जिसमें लगभग 24 लाख अभ्यर्थियों ने भाग लिया था।

इस परीक्षा का परिणाम 14 जून को घोषित किये जाने की उम्मीद थी, लेकिन परिणाम चार जून को ही घोषित दिये गये थे क्योंकि उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन पहले ही पूरा हो गया था।

इस प्रतिष्ठित परीक्षा में बिहार जैसे अन्य राज्यों में प्रश्नपत्र लीक और अन्य अनियमितताओं के आरोप लगे हैं। आरोपों के कारण कई शहरों में विरोध प्रदर्शन हुए और कई उच्च न्यायालयों समेत उच्चतम न्यायालय में याचिकाएं दायर की गई हैं।

उच्चतम न्यायालय ने मंगलवार को कहा कि अगर नीट-यूजी 2024 परीक्षा के संचालन में यदि किसी की ओर से ‘0.001 प्रतिशत लापरवाही’ भी हुई है, तो भी इससे पूरी तरह निपटा जाना चाहिए।

सरकारी और निजी कॉलेजों के एमबीबीएस, बीडीएस, आयुष और अन्य संबंधित पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए नीट-यूजी का आयोजन देशभर में राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) द्वारा कराया जाता है।

भाषा संतोष मनीषा

मनीषा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers