उत्तराखंड के गुरुद्वारे में हत्या: सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी सहित पांच के खिलाफ प्राथमिकी |

उत्तराखंड के गुरुद्वारे में हत्या: सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी सहित पांच के खिलाफ प्राथमिकी

उत्तराखंड के गुरुद्वारे में हत्या: सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी सहित पांच के खिलाफ प्राथमिकी

:   Modified Date:  March 30, 2024 / 12:39 PM IST, Published Date : March 30, 2024/12:39 pm IST

रुद्रपुर, 30 मार्च (भाषा) उत्तराखंड के उधम सिंह नगर जिले में नानकमत्ता साहिब गुरुद्वारे के डेरा कारसेवा प्रमुख की हत्या के मामले में एक सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी सहित पांच व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी।

बाबा तरसेम सिंह की बृहस्पतिवार को गुरुद्वारा परिसर में मोटरसाइकिल सवार दो लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) मंजूनाथ टीसी ने बताया कि प्राथमिकी में दो हमलावर – सरबजीत सिंह और अमरजीत सिंह – सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी हरबंस सिंह चुघ (नानकमत्ता गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के प्रमुख), बाबा अनूप सिंह और प्रीतम सिंह संधू (एक क्षेत्रीय सिख संगठन उपाध्यक्ष) के नाम शामिल हैं। उन्होंने बताया कि प्राथमिकी शुक्रवार को दर्ज की गई।

पुलिस अधिकारी ने कहा कि सरबजीत सिंह पंजाब के तरनतारन का रहने वाला है जबकि अमरजीत सिंह उत्तर प्रदेश के रामपुर का रहने वाला है। उन्होंने बताया कि इनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या), 120 बी (आपराधिक साजिश) और 34 (सामान्य इरादा) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

एसएसपी ने कहा कि सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी सहित तीन अन्य को प्राथमिकी में नामजद किया गया है क्योंकि शिकायतकर्ता ने उनकी भूमिका पर संदेह जताया था।

नानकमत्ता साहिब गुरुद्वारे के डेरा कारसेवा प्रमुख एक कुर्सी पर बैठे थे, जब दो पहिया वाहन पर पीछे बैठे शूटर ने उन्हें एक राइफल से गोली मार दी। बाबा तरसेम सिंह को खटीमा के एक अस्पताल ले जाया गया जहां इलाज के दौरान उनकी मृत्यु हो गई।

रुद्रपुर से लगभग 50 किलोमीटर दूर स्थित नानकमत्ता साहिब गुरुद्वारा, राज्य के उधम सिंह नगर जिले में रुद्रपुर-टनकपुर मार्ग पर स्थित है।

भाषा अमित मनीषा

मनीषा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers