एफआईआर लिखने के एवज में रिश्वत लेने का आरोप, कोतवाली प्रभारी की शिकायत गृह मंत्री से

Reported By: Subhash Saheb, Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 21 Jun 2019 03:57 PM, Updated On 21 Jun 2019 03:34 PM

धमतरी। पुलिस के खिलाफ एक के बाद एक भ्रष्टाचार की गंभीर शिकायतें सामने आ रही हैं। रेंज के आईजी द्वारा अवैध वसूली करने वाले यातायात पुलिस पर सीधी कार्रवाई को 24 घंटे भी नही बीते थे कि अब कोतवाली प्रभारी पर एफआईआर लिखने के एवज में रिश्वत लेने की शिकायत का मामला गरमाया हुआ है।

दरअसल धमतरी में चिटफंड कंपनी चलाने वाली फर्म महानदी एडवाइजरी के निवेशकों को जब उनकी रकम तय समय में नही मिली तब उन्होंने इस फर्म के खिलाफ सिटी कोतवाली में शिकायत करने का फैसला किया। लेकिन आवेदकों ने आरोप लगाया है कि कोतवाली प्रभारी उमेंद्र टंडन ने सिर्फ एफआईआर करने के एवज में 30 हजार रुपए ले लिए। उसके बाद भी महानदी एडवाइजरी के कर्मचारियों पर कार्रवाई नही कर रही है।

यह भी पढ़ें : मालेगांव ब्लास्ट मामले में सांसद प्रज्ञा ठाकुर को कुछ दिन की राहत, जानिए पूरा मामला 

धमतरी पुलिस से जब उम्मीद टूटी तब इस पूरे मामले की शिकायत सीधे गृह मंत्री से की गई। इसके बाद गृह मंत्री ने पूरे मामले की रिपोर्ट तलब की है। संभव है अब सीधे मंत्री स्तर पर शिकायत के बाद जल्द जांच और कार्रवाई होगी। शिकायतकर्ताओ का दावा है कि सिटी कोतवाली में घूस की रकम का जब लेनदेन हुआ उस मौके का एक वीडियो क्लिप भी बनाया गया है। इस वीडियो में कोतवाली के हवलदार उत्तम निषाद एक निवेशक से कुछ लेते हुए दिखाई पड़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें : राहुल गांधी से मिले कोरबा सांसद ज्योत्सना और चरणदास महंत, दी जन्मदिन की बधाई 

 

 

Web Title : Charged for taking bribe for writing FIR

जरूर देखिये