बिजली का खंभा लगाकर लोगों को बिल भेज रहा था विभाग, जेई सस्पेंड, विभागीय जांच के आदेश

Reported By: Arun Soni, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 13 Mar 2019 01:50 PM, Updated On 13 Mar 2019 01:50 PM

बलरामपुर। बलरामपुर जिले में आईबीसी 24 की खबर का एक बार फिर से असर हुआ है। आईबीसी 24 ने ग्राम पंचायत हरगंवा के ग्रामीणों की सालों से अंधेरे में रहने की खबर दिखाई जिसके तुरंत बाद जिले की विद्युत विभाग की टीम हरकत में आई और एक हफ्ते की भीतर गांव में बिजली आ गई। पिछले 70 साल से अंधेरे में जी रहे ग्रामीण मीडिया का धन्यवाद देते नहीं थक रहे हैं। उनकी मानें तो अब उन्हें आजादी महसूस हो रही है। क्योंकि बिजली ना होने से ये गांव हर मायने में पीछड़ गया था। 

पढ़ें-डीजी मुकेश गुप्ता की स्टेनो रही रेखा नायर के रायपुर-भिलाई स्थित घरों पर ACB/EOW का छापा

वहीं विद्युत विभाग की टीम ने जूनियर इंजीनियर द्वारा किए गए लापरवाही पर भी कार्रवाई की है और जेई को निलंबित कर दिया है। विभाग के कार्यपालन अभिंयता ने बताया की गांव में सालों पहले पोल के खंभे लगा दिए गए थे।

पढ़ें- स्कूलों में छात्राओं से दुष्कर्म की घटनाएं बढ़ी, शिक्षकों के चरित्र...

लेकिन कर्मचारियेां की लापरवाही से वहां बिजली नहीं पहंच पाई थी और कर्मचारियों ने दोहरी गलती करते हुए बिना कनेक्शन के ही ग्रामीणों को बिल भेजना शुरू कर दिया था। मीडिया में खबर आने के बाद विभाग ने न सिर्फ गांव में बिजली पहुंचाई बल्कि काम में लापरवाही बरतने वाले जेई को भी निलंबित कर दिया है, साथ ही बिजली बिल भेज रहे अधिकारियों के खिलाफ विभागीय जांच भी शूरु कर दिया गया है।

Web Title : Department was sending fake electricity bills to people

जरूर देखिये