बीजेपी ने इस राज्य में जिन्हें दी टिकट बांटने की जिम्मेदारी, अधिकांश खुद बन गए दावेदार

Reported By: Sudhir Dandotiya, Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 12 Mar 2019 05:02 PM, Updated On 12 Mar 2019 05:00 PM

भोपाल। देश में लोकसभा चुनाव की घोषणा हो चुकी है। बीजेपी-कांग्रेस सहित सभी पार्टियों में दावेदार घोषित करने की होड़ मची हुई है। मध्यप्रदेश में इस बार टिकट बांटने वाले नेता खुद टिकट की कतार में लगे हुए हैं। प्रदेश में बीजेपी ने जिन लोगों को टिकट बांटने की जिम्मेदारी सौंपी थीं, अब वही लोग टिकट के दावेदार बन गए हैं। प्रदेश में चुनाव समिति के पचास फीसदी सदस्यों ने टिकट के लिए अपना नाम भी दे दिया है।

मध्यप्रदेश में लोकसभा चुनाव में बीजेपी से टिकट बांटने की जिम्मेदारी प्रदेश भाजपा चुनाव समिति की है। नामों का पैनल भी इसी समिति को केंद्रीय चुनाव समिति को भेजना है। जिस समिति पर इतनी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है, उसके मौजूदा 15 सदस्यों में आधे टिकट के दावेदार बन गए हैं। राष्ट्रीय नेतृत्व चुनाव समिति के भेजे गए दावेदारों के पैनल पर आखिरी फैसला लेगी। हालांकि इस बार सारे फैसले प्रदेश चुनाव समिति के बजाय केंद्रीय चुनाव समिति ही करेगी। ऐसे में मध्य प्रदेश में टिकिट बाँटने वाले नेताओं में किसको टिकिट मिलेगा इस पर असमंजस बरकारार है।

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश की 80 सीटों पर 7 चरणों में होगा मतदान, जानिए आपको कब करना है वोट 

इस चुनाव समिति में शामिल सदस्यों में प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, जबलपुर, नंदकुमार सिंह चौहान, खंडवा, नरेंद्र सिंह तोमर, ग्वालियर फग्गन सिंह कुलस्ते शहडोल के टिकट के दावेदार है। इसके अलावा विदिशा से शिवराज सिंह चौहान, गुना से प्रभात झा और कृष्ण मुरारी मोघे के चुनाव लड़ने की चर्चा भी तेज है। बाकी सदस्यों में कैलाश जोशी, सुहास भगत, सत्यनारायण जटिया, थावरचंद गहलोत, विक्रम वर्मा, राजेंद्र शुक्ला, भूपेंद्र सिंह, माया सिंह और लता एलकर भी चुनाव समिति के सदस्य हैं, जो दावेदारी नहीं कर रहे है।

WhatsApp ग्रुप से जुड़ने के लिए लिंक पर क्लिक करें => https://chat.whatsapp.com/C5hLkmrGSwkKCt1o0MUbzi

Web Title : lok sabha election news of madhya pradesh

जरूर देखिये