यात्रा के दौरान अफसर की पत्नी से छेड़छाड़ करना DIG को पड़ा भारी, रेलवे बोर्ड ने जारी किया ये आदेश

Reported By: Abhishek Sharma, Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 18 Jul 2019 11:44 PM, Updated On 18 Jul 2019 11:44 PM

जबलपुर: आखिरकार इंदौर जबलपुर ट्रेन में पश्चिम मध्य रेलवे के अधिकारी की पत्नी से छेड़छाड़ करना पश्चिम मध्य रेल के मुख्य सुरक्षा आयुक्त को भारी पड़ ही गया है। रेल बोर्ड ने छेड़छाड़ के आरोपी विजय खातरकर का तबादला कर दिया है। रेल बोर्ड द्वारा रात को जारी तबादला आदेश में विजय खातरकर को उत्तर रेलवे के प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त कार्यालय में अटैच कर दिया है।

Read More: विधानसभा अध्यक्ष चरण दास महंत ने डॉ खूबचंद बघेल की जयंती पर प्रदेशवासियों को दी बधाई

दरअसल 15 जुलाई को ओवरनाइट एक्सप्रेस में ए 1 कोच में सफ़र के दौरान डीआईजी विजय खातरकर पर पास की सीट पर सफर कर रही रेलवे अफसर की पत्नी से छेड़छाड़ कर अश्लील हरकत करने की कोशिश की थी। ट्रेन में काफी देर तक चले हंगामे के बाद महिला ने अपने रेल अफसर पति के साथ जबलपुर के जीआरपी में डीआईजी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी।

Read More: विभाग की छवि धूमिल करने के आरोप में प्रभारी उप संचालक निलंबित, मंत्री अनिला भेड़िया ने दिए निर्देश

छेड़छाड़ का मामला दर्ज होने के बाद डीआईजी विजय खातरकर पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही थी। आरपीएफ के डीआईजी विजय खातरकर के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद से ही उनके खिलाफ लगातार आवाजें उठ रही थी। रेल अधिकारियों की पत्नियों के संगठन ने बकायदा पश्चिम मध्य रेल के महाप्रबंधक अजय विजयवर्गीय से मुलाकात कर आरोपी डीआईजी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की भी मांग की थी।

Read More: बेटी को पूर्व मुख्यमंत्री ने साल भर पहले लाड़ से ​किया था विदा, निधन की खबर सुन रो पड़े

इस बीच एक नाटकीय घटनाक्रम के तहत 15 जुलाई की रात को ओवरनाइट एक्सप्रेस में सफर कर रहे घटना के गवाह और मुसाफिर मयंक सिंह ने भी डीआईजी से अपनी जान का खतरा बताया था। रेल अफसर की पत्नी के बगल वाली सीट पर यात्रा कर रहे मयंक सिंह नाम के शख्स ने एसपी अमित सिंह से मुलाकात कर आरोप लगाया था कि छेड़छाड़ के आरोपी डीआईजी विजय खातरकर के पक्ष में बयान देने के लिए आरपीएफ द्वारा उस पर दबाव बनाया जा रहा है। ऐसा न करने पर उसे झूंठे मामले में फंसाने की धमकी दी जा रही है। इन तमाम बातों के बीच रेलवे बोर्ड ने मामले में डीआईजी खातरकर पर कार्यवाई की गाज गिराते हुए उनका तबादला उतर रेलवे में करते हुए उन्हें मुख्य सुरक्षा आयुक्त कार्यालय में अटैच करने के आदेश जारी किए हैं। साथ ही तत्काल प्रभाव से डीआईजी खातरकर को पश्चिम मध्य रेलवे से रिलीव करने कहा गया है।

Read More: सीएम भूपेश बघेल के पिता नन्द कुमार की हालत स्थिर, डॉक्टरों ने जारी किया मेडीकल बुलेटिन

Web Title : RPF DIG transferred due to teasing senior officer's wife while travel in train

जरूर देखिये