निर्वाचन ड्यूटी से अनुपस्थित दो अधिकारी निलंबित, कलेक्टर ने की कार्रवाई

Reported By: Akhilesh Shukla, Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 17 May 2019 09:34 PM, Updated On 17 May 2019 09:34 PM

कांकेर। लोकसभा चुनाव के निर्वाचन ड्यूटी से अनुपस्थित जिले के दो अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। कर्मचारियों को भानुप्रतापदेव शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कांकेर में 17 अप्रैल को निर्वाचन सामग्री का वितरण किया जाना था, जहां वे मौजूद नहीं हुए। इसके बाद दोनों अधिकारियों को कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी केएल चौहान द्वारा तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। कलेक्टर ने निर्वाचन ड्यूटी से अनुपस्थित दो कर्मचारी सहायक शिक्षक (एलबी) खेमराज धनेलिया और ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी देवव्रत को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

बता दें कि खेमराज धनेलिया, सहायक शिक्षक (एलबी) बालक आश्रम पोड़ागांव, विकासखण्ड अंतागढ़ की ड्यूटी मतदान अधिकारी क्रमांक-02 के रूप में विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 81 कांकेर के अंतर्गत मतदान केन्द्र क्रमांक 159 में लगाई गई थी। धनेलिया सामग्री वितरण दिवस 17 अप्रैल को निर्वाचन सामग्री वितरण केन्द्र शासकीय भानुप्रतापदेव स्नातकोत्तर महाविद्यालय कांकेर में अनुपस्थित पाए गए, जिस पर उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। लेकिन उनके द्वारा अब तक जवाब पेश नहीं किया गया। इस पर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी चौहान ने सहायक शिक्षक (एलबी) खेमराज धनेलिया को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। इस अवधि में उसका मुख्यालय खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय कोयलीबेड़ा निर्धारित किया गया है।

दलित ने घोड़ी पर निकाली बारात, सवर्ण समाज के लोगों ने पीटा, कहा- गांव में ऐसी कोई प्रथा ही नहीं 

इसके अलावा कोयलीबेड़ा विकासखण्ड के पखांजूर में पदस्थ ग्रामीण कृषि विस्तारक अधिकारी देवव्रत को भी सामग्री वितरण के दिन अनुपस्थित पाए जाने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। नोटिस तामिली में भी वे अनुपस्थित पाए गए, जिसके बाद कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी चौहान ने उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। इस अवधि में उसका मुख्यालय कार्यालय उप संचालक, कृषि, जिला कांकेर निर्धारित किया गया है।

Web Title : Two officials absent from election duty suspended

जरूर देखिये