दूषित पेयजल से उल्टी- दस्त का कहर, स्वास्थ्य विभाग कैंप लगाकर कर रहा मरीजों का इलाज

 Edited By: Rupesh Sahu

Published on 26 May 2019 10:36 PM, Updated On 26 May 2019 10:21 PM

खरगोन । जिले के सेगांव में एक बार फिर उल्टी दस्त की शिकायत के चलते करीब 50 लोग बीमार हो गए। सेगांव क्षेत्र में बीते एक साप्ताह से उल्टी दस्त का प्रकोप जारी है जिसके कारण 30 बेड के सामुदायिक स्वास्थ केंद्र में 50 से अधिक मरीजों को भर्ती किया गया है। यही नहीं प्रतिदिन मरीजों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। अब तक उल्टी दस्त से पीड़ित मरीजों का आंकडा बढ़कर 150 पार हो गया है।

ये भी पढ़ें- हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से मिनी ट्रक में लगी आग, वाहन में भरा...

स्वास्थ्य विभाग द्वारा बीमारी की वजह कुएं की पानी को बताया गया है। कुंए का दूषित पानी पीने की वजह से लोग बीमार पड़ रहे हैं, जिसके बाद पीएचई विभाग द्वारा कुओं से पानी के सेम्पल भी लिए गए थे जिसकी रिपोर्ट नार्मल आई है। हालांकि मरीजों की संख्या में प्रतिदिन इजाफा हो रहा है। स्वास्थ अमला मरीजों के उपचार में जुटा है लेकिन दीनों- दिन बढञ रही मरीजों की संख्या से वो भी हैरान है। स्वास्थ्य विभाग की अन्य टीमों के साथ मिलकर घर- घर जाकर ओआरएस पावडर और क्लोरिन की गोलियां वितरित कर रही है । स्वास्थ्य विभाग कैंप लगाकर मरीजों का इलाज कर रहा है।

ये भी पढ़ें- Watch Video: जातिगत आरोप लगाकर अस्पताल प्रबंधन ने नहीं दिया शव वाहन...

वही विकासखंड मुख्यालय पर भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा केम्प भी लगाया जा रहा है। उसके बावजूद भी उल्टी दस्त से पीड़ित मरीजों का सिलसिला थमने का नाम नही ले रहा है। वही ग्रामीणों ने स्वास्थ्य विभाग सहित पीएचई विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया है। जबकि बीएमओ का कहना है कि रोज उल्टी दस्त से पीड़ित मरीज आ रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा मरीजो का प्रतिदिन इलाज किया जा रहा है। घर घर ओआरएस के पावडर भी वितरण किया जा रहा है। कुछ कुओं के पानी के सेम्पल की रिपोर्ट आना बाकी है।

Web Title : Vomiting from the contaminated drinking water

जरूर देखिये