फाइजर ने कोविड-19 के संभावित टीके के परीक्षण का तीसरा चरण पूरा किया

Edited By: , March 11, 2021 / 07:28 PM IST

(योषिता सिंह)

न्यूयार्क, 18 नवंबर (भाषा) विश्व की अग्रणी दवा निर्माता कंपनी फाइजर और बायो-एनटेक ने बुधवार को कहा कि उनके द्वारा बनाया जा रहा कोविड-19 का संभावित टीका 95 प्रतिशत तक प्रभावी है और यह 65 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों पर भी कारगर है।

इससे दो दिन पहले मॉडर्ना कंपनी ने घोषणा की थी उसके द्वारा बनाया जा रहा टीका 94.5 प्रतिशत तक प्रभावी है।

फाइजर और बायो-एनटेक ने कहा कि उन्होंने कोविड-19 के एमआरएनए आधारित संभावित टीके ‘बीएनटी 162बी2’ के तीसरे चरण का अध्ययन पूरा कर लिया है।

वर्तमान अनुमान के आधार पर कंपनियों को उम्मीद है कि वह वैश्विक स्तर पर 2020 तक टीके की पांच करोड़ खुराक का उत्पादन कर लेंगी और 2021 के अंत तक यह उत्पादन एक सौ तीस करोड़ खुराक तक पहुंच सकता है।

फाइजर के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ अल्बर्ट बुर्ला ने कहा, “इस अध्ययन के नतीजों से आठ महीने की यात्रा में एक महत्वपूर्ण पड़ाव आया है। हम इस घातक महामारी का अंत करने के लिए टीके के निर्माण में लगे हैं। हम विज्ञान की गति से चल रहे हैं और अब तक एकत्र किये गए सभी आंकड़ों को विश्व भर के नियामकों से साझा कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “प्रतिदिन दुनिया में सैकड़ों लोग संक्रमित हो रहे हैं और हमें तत्काल एक प्रभावी टीके की आवश्यकता है।”

भाषा यश मनीषा

मनीषा