अमेरिकी पायलट ने अंतरिक्ष यात्रा के लिए मिली सीट दोस्त को दे दी

अमेरिकी पायलट ने अंतरिक्ष यात्रा के लिए मिली सीट दोस्त को दे दी

: , January 27, 2022 / 06:35 PM IST

केप केनरवल (अमेरिका), 27 जनवरी (एपी) अमेरिका के एक पायलट ने पिछले साल स्पेसएक्स द्वारा पर्यटकों को ले जाने वाले अंतरिक्ष यान में मिली सीट अपने एक दोस्त को दे दी।

कायली हिप्पाचेन को मूल रूप से यह प्रस्ताव मिला था, जिन्होंने अपनी सीट अपने कॉलेज के समय के ‘रूममेट’ (कमरे में साथ रहने वाले सहपाठी) को दे दी।

आखिरकार हिप्पाचेन का राज खुल गया। उनके लिए यह स्वीकार कर पाना आसान नहीं है कि वजन अधिक रहने के चलते वह इस मौके का फायदा उठाने से चूक गये।

उन्होंने कहा, ‘‘इससे मुझे बहुत दुख हुआ। मैं निराश हूं।’’

डेल्टा क्षेत्रीय कैरियर एंडेवर एयर के लिए फ्लोरिडा निवासी कैप्टन, हिप्पाचेन (43),ने अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के केनेडी स्पेस सेंटर के दौरान हाल में अपनी कहानी द एसोसिएटेड प्रेस के साथ साझा की।

उन्होंने बताया कि वह उस वक्त निराश हो गये जब उन्हें पता चला कि उनका वजन, स्पेसएक्स के वजन की 250 पाउंड (113 किग्रा) की सीमा से अधिक है और उनका प्रस्ताव एक ऐसे व्यक्ति को हस्तांतरित कर दिया गया है जिनके बारे में जानकर उन्हें खुशी होगी। चार महीने बाद, उन्हें पता चला कि 50 से कम लोग जानते थे कि वह इस अभियान के लिए वास्तविक विजेता थे।

उनकी सीट एवरेट, वाशिंगटन में डेटा इंजीनिर, क्रिस सेमब्रोस्की (42) को दे गई। वे दोनों 1990 की दशक की शुरूआत में एम्ब्रे रिडल एयरोनॉटिकल यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान एक ही कमरे में रहते थे। वे अन्य छात्रों के साथ कार में सवार होकर नासा के अंतरिक्ष यान को देखने के लिए निकल पड़ते थे।

वे एक स्पेस एडवोकेसी ग्रुप से भी संबद्ध थे, जो वाणिज्यि अंतरिक्ष यात्रा का प्रचार करने के लिए वाशिंगटन जाता था।

पिछले साल मार्च की शुरूआत में हिप्पाचेन को उनके बारे में ब्योरा मांगने वाले ईमेल आने लगे। उस समय उन्होंने अंतरिक्ष यात्रा के बारे में सूचना पढ़ी, जिसमें लिखा था कि विजेता 113 किग्रा वजन से अधिक का नहीं होगा।

हिप्पाचेन पांच फुट 10 इंच के हैं और उस वक्त उनका वजन 150 किग्रा था।

उन्होंने आयोजकों से कहा कि वह इस दौड़ से बाहर हो रहे हैं। बाद में ईमेल और फोन के जरिए यह जान कर वह हैरान रह गये वह विजेता थे।

पिछले साल सितंबर में अंतरिक्ष की यात्रा पर गये उड़ान के प्रायोजक इसाकमैन ने पिछले हफ्ते एक ईमेल में कहा, ‘‘कायली की अपनी सीट किस और को तोहफे में देने की इच्छा उदारता का प्रतीक है।’’

एपी

सुभाष उमा

उमा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)