कांग्रेस का ‘माओवादी’ घोषणापत्र लागू हुआ तो भारत दिवालिया हो जाएगा: प्रधानमंत्री मोदी |

कांग्रेस का ‘माओवादी’ घोषणापत्र लागू हुआ तो भारत दिवालिया हो जाएगा: प्रधानमंत्री मोदी

कांग्रेस का ‘माओवादी’ घोषणापत्र लागू हुआ तो भारत दिवालिया हो जाएगा: प्रधानमंत्री मोदी

:   Modified Date:  May 17, 2024 / 11:38 PM IST, Published Date : May 17, 2024/11:38 pm IST

(तस्वीरों के साथ)

मुंबई, 17 मई (भाषा) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के घोषणापत्र को एक ‘‘माओवादी’’ दस्तावेज बताया और कहा कि अगर इसे लागू किया गया तो देश की आर्थिक वृद्धि रुक जाएगी तथा यह भारत को दिवालियापन की ओर ले जाएगा।

उन्होंने कहा कि अगर आजादी के बाद महात्मा गांधी की इच्छा के अनुरूप कांग्रेस को भंग कर दिया गया होता तो भारत आज की तुलना में सामाजिक और आर्थिक विकास के मामले में पांच दशक आगे होता।

महाराष्ट्र में 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए मुंबई के शिवाजी पार्क में शिवसेना-भाजपा उम्मीदवारों के समर्थन में एक रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कांग्रेस पर उसके चुनाव घोषणापत्र को लेकर जमकर हमला बोला।

उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है और (खुद को बचाने के लिए) किसी भी हद तक जा सकती है। इसके माओवादी घोषणापत्र की नजर मंदिरों के सोने और महिलाओं के ‘मंगलसूत्र’ पर है। माओवादी घोषणापत्र आर्थिक विकास पर रोक लगाएगा और देश को दिवालियापन की ओर ले जाएगा।’’

प्रधानमंत्री ने पहले कहा था कि कांग्रेस के घोषणापत्र पर मुस्लिम लीग की छाप है।

उन्होंने दावा किया कि अगर कांग्रेस केंद्र में सत्ता में आई तो वह मंदिरों से सोना और महिलाओं के ‘मंगलसूत्र’ छीन लेगी तथा 50 प्रतिशत विरासत कर भी लगाएगी।

मोदी ने कहा, ‘‘यह (कांग्रेस) 50 प्रतिशत विरासत कर की भी योजना बना रही है… पार्टी आपकी संपत्ति का ‘एक्स-रे’ करने और इसे ‘वोट जिहाद’ की बात करने वाले अपने वोट-बैंक को सौंपने की योजना बना रही है।’’

उन्होंने कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण और जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा प्रदान करने वाले अनुच्छेद 370 को हटाना देश में असंभव कार्य माना जाता था, लेकिन अब वे वास्तविकता बन गए हैं।

मोदी ने जनसमूह से कहा, ‘‘लेकिन ये आपके एक वोट की ताकत के कारण संभव हुआ।’’

उन्होंने मुंबई के लोगों से कहा कि जब वे 20 मई को वोट देने जाएं तो अतीत में महानगर को दहला देने वाले आतंकी हमलों और सिलसिलेवार बम विस्फोटों तथा 2014 के बाद स्थिति में आए बदलाव को याद रखें।

मोदी ने कहा, ‘‘पिछले दस वर्षों से मुंबईकर सुरक्षित महसूस कर रहे हैं।’’

उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि ‘नकली’ शिवसेना ने लोगों के जनादेश के साथ विश्वासघात किया है और मुंबई और महाराष्ट्र के हित के खिलाफ काम किया है।

उन्होंने कहा, ‘‘नकली शिवसेना ने राम मंदिर और वीर सावरकर को गाली देने वालों के साथ खड़े होकर बालासाहेब ठाकरे को धोखा दिया है।’’

मोदी ने कहा, ‘‘अयोध्या में रामलला के लिए एक भव्य मंदिर बनाने के लिए भारतीयों ने 500 वर्षों तक संघर्ष किया। निराशा में डूबे लोगों ने यह भी कहा कि अनुच्छेद 370 को हटाना असंभव था, लेकिन इसे हटा दिया गया। दुनिया की कोई भी ताकत अनुच्छेद 370 को वापस नहीं ला सकती है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं मुंबई को उसका उचित अधिकार दिलाऊंगा। वह दिन दूर नहीं जब मुंबई को भारत की पहली बुलेट ट्रेन मिलेगी।’’

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की वित्तीय राजधानी स्टार्ट-अप के केंद्र के रूप में उभरी है।

उन्होंने कहा, ‘‘आज मुंबई में 8,000 स्टार्ट-अप हैं। भारत दूसरा सबसे बड़ा मोबाइल विनिर्माण केंद्र है।’’

भाषा

शफीक देवेंद्र

देवेंद्र

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers