लोकसभा चुनाव 2019, छत्तीसगढ़ ने दोबारा रचा कीर्तिमान, प्रदेश के किसी भी मतदान केंद्र में पुनर्मतदान नहीं

 Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 09 May 2019 09:53 PM, Updated On 09 May 2019 09:53 PM

रायपुर। लोकसभा चुनाव 2019 के तहत छत्तीसगढ़ राज्य में किसी भी मतदान केंद्र में पुनर्मतदान नहीं होगा। यह गौरवशाली उपलब्धि छत्तीसगढ़ राज्य के लिए कीर्तिमान है। निर्वाचन के लिए प्रदेश में तीन चरणों 11, 18 तथा 23 अप्रैल 2019 को हुए मतदान के दौरान 23 हजार 732 मतदान केंद्रों में किसी भी मतदान केन्द्र में पुनर्मतदान नहीं हुआ। बताया गया कि भारत निर्वाचन आयोग छत्तीसगढ़ राज्य के किसी भी लोकसभा क्षेत्र के किसी भी मतदान केंद्र में पुनर्मतदान नहीं कराए जाने के बारे में सहमत है।

छत्तीसगढ़ के प्रमुख निर्वाचन अधिकारी सुब्रत साहू ने कहा कि मतदान प्रक्रिया को लेकर कोई शिकायत नहीं होना प्रदेश के लिए सम्मान की बात है। सीईओ साहू ने इसके लिए प्रदेश के सभी मतदाताओं, राजनीतिक दलों, निर्वाचन कार्य में लगे सभी अधिकारियों-कर्मचारियों, सुरक्षा जवानों तथा अर्धसैनिक बल के जवानों को धन्यवाद ज्ञापित किया है। उन्होंने इस उपलब्धि को प्रदेश के लिए कीर्तिमान स्थापित करने वाला कहते हुए गौरवपूर्ण बताया है।

यह भी पढ़ें : भूपेश ने कहा- जो हूं उसमें दिग्विजय का बड़ा हाथ, मोदी BSNL की नहीं, जिओ की ब्रांडिंग कर रहे 

गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव 2018 में भी दो चरणों में 12 नवम्बर और 20 नवंबर 2018 को 90 विधानसभा क्षेत्रों के लिए हुए मतदान के बाद किसी भी मतदान केंद्र में पुनर्मतदान की नौबत नहीं आई थी। छत्तीसगढ़ राज्य बनने के बाद यह पहली बार ऐसा हुआ है कि विधानसभा चुनाव 2018 और लोकसभा चुनाव 2019 दोनों में पुनर्मतदान की नौबत नहीं आई। विधानसभा और लोकसभा निर्वाचन में पुनर्मतदान नहीं होना यह ऐतिहासिक दूसरा कीर्तिमान है।

Web Title : 2019 Lok Sabha elections No re polling in any polling booth of Chhattisgarh Its record

जरूर देखिये