ई-टेंडरिंग मामले में EOW ने MPSIDC के अधिकारी को किया गिरफ्तार

Reported By: Sudhir Dandotiya, Edited By: Deepak Dilliwar

Published on 14 Apr 2019 07:10 PM, Updated On 14 Apr 2019 07:10 PM

भोपाल: मध्य प्रदेश के बहुचर्चित ई-टेंडरिंग मामले में ईओडब्ल्यू की कार्रवाई लगातार जारी है। रविवार को ईओडब्ल्यू की टीम ने एमपीएसआईडीसी के एक अधिकारी को गिरफ्तार किया है। मामले में ईओडब्ल्यू ने 5 विभागों और 7 कम्पनियो के खिलाफ 9 एफआईआर दर्ज किया है। बता दें कि बीते दिनों ईओडब्ल्यू की टीम ने आईटी कंपनी ओसमों के 3 अधिकारियों को गिरफ्तार किया था, जिन्हें शनिवार को कोर्ट में पेश किया गया था। कोर्ट ने तीनों आरोपियों को 3 दिन के न्यायिक रिमांड में भेज दिया था।

Read More: सोशल मीडिया में मच गई खलबली, जब अचानक बंद हो गया Facebook

वहीं, दूसरी ओर ई-टेंडर घोटाले पर सुरेश पचौरी ने पूर्व सीएम शिवराज पर कटाक्ष किया है। पचौरी ने शिवराज के संरक्षण में ई टेंडरिंग घोटाला होने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि व्यापम की तरह अब शिवराज ई टेंडर घोटाले का पर्दाफाश करने का श्रेय ले रहे हैं। बतादें शिवराज ने हाल ही में बयान दिया था कि उन्होंने ही घोटाले के खिलाफ पहली लड़ाई शुरू की थी।

Read More: पूर्व राज्यपाल ने पुलवामा हमले को लेकर PM मोदी को घेरा, कहा- शहीदों की चिता की राख से राजतिलक की कर रहे तैयारी

शिवराज पर तंज कसते हुए सज्जन सिंह ने शिवराज की जांच को आगे बढ़ाने की बात कह रहे हैं। सज्जन ने कैलाश विजयवर्गीय पर भी निशाना साधते हुए सवाल किया कि 'क्या कैलाश राजनीति के इनसाइक्लोपीडिया हैं? क्या कैलाश हर सब्जेक्ट पर बोलेगा, इसको इतना ज्ञान है'। उन्होंने बीजेपी को अवसरवादी पार्टी बताया। कहा कि जब सत्ता थी तब अम्बेडकर को याद करते थे जब सत्ता का बुखार उतर गया तो बाबा साहब को भूल गए। सज्जन सिंह ने अम्बेडकर की जन्मस्थली को राष्ट्रीय स्मारक घोषित कराने की बात कही।

Web Title : EOW Arrested Officer of MPSIDC on E tendering case

जरूर देखिये