मुख्यमंत्री भूपेश से मिले जोगी, मनेंद्रगढ़-चिरमिरी और पेंड्रा-गौरेला को जिला बनाने की मांग, देखिए

 Edited By: Sanjeet Tripathi

Published on 31 Dec 2018 05:30 PM, Updated On 31 Dec 2018 05:30 PM

बिलासपुर। राजनीति में कई बार ऐसे मौके आते हैं जब दो चिर प्रतिद्वंदी आमने-सामने हो जाएं। ऐसा ही कुछ आज बिलासपुर में देखने आया जहां मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और जोगी कांग्रेस प्रमुख अजीत जोगी की मुलाकात हुई। इस मुलाकात के दौरान जोगी ने बघेल के समक्ष दो मांगें रखी।

मुख्यमंत्री के आज बिलासपुर प्रवास के दौरान उनसे पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी, विधायक धर्मजीत सिंह और रेणु जोगी ने मुलाकात की। इस दौरान जोगी ने मुख्यमंत्री के सामने पेंड्रा को जिले का दर्जा देने की मांग रखी। इस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि किसी क्षेत्र की कोई उपेक्षा नहीं होगी। जोगी ने उन्हें 2 मांग पत्र भी सौंपें।

यह भी पढ़ें : सुधीर भार्गव बनाए गए नए सीआईसी, चार सूचना आयुक्त भी नियुक्त 

इन मांग पत्र में कहा गया है कि मनेंद्रगढ़ और चिरमिरी को मिलाकर एक नया संयुक्त जिला बनाया जाए। इसकी मांग पिछले 15 वर्षों से की जा रही है। वहीं दूसरे मांग पत्र में कहा गया है कि मरवाही, पेंड्रा और गौरेला को जिला बनाया जाना चाहिए। क्योंकि ये तीनों ब्लॉक जिला मुख्यालय बिलासपुर से करीब 150 किलोमीटर दूर हैं और 80 फीसदी आबादी आदिवासी समाज और विशेष पिछड़ी जनजाति की है।

 

 

Web Title : Jogi met the Chief Minister Bhupesh, demand for Manendragarh-Chirmiri and Pendra-Gaurela to be made district

जरूर देखिये