उप्र: जौनपुर में 1.65 लाख रुपये रिश्वत लेते लेखाधिकारी और लिपिक गिरफ्तार, ईओ फरार |

उप्र: जौनपुर में 1.65 लाख रुपये रिश्वत लेते लेखाधिकारी और लिपिक गिरफ्तार, ईओ फरार

उप्र: जौनपुर में 1.65 लाख रुपये रिश्वत लेते लेखाधिकारी और लिपिक गिरफ्तार, ईओ फरार

:   Modified Date:  April 6, 2024 / 12:37 AM IST, Published Date : April 6, 2024/12:37 am IST

जौनपुर (उप्र) पांच अप्रैल (भाषा) उत्तर प्रदेश पुलिस के भ्रष्टाचार निवारण संगठन (एसीओ) की वाराणसी इकाई ने शुक्रवार को नगर पालिका परिषद जौनपुर में छापा मारकर लेखाधिकारी और उसके सहयोगी लिपिक को एक लाख 65 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने यह जानकारी दी।

वाराणसी की एसीओ टीम के प्रभारी निरीक्षक नीरज सिंह ने बताया कि मामले में अधिशासी अधिकारी (ईओ), लेखाधिकारी व लिपिक समेत तीन आरोपियों के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। ईओ फरार हो गया है।

प्रभारी निरीक्षक सिंह ने बताया कि थाना नगर कोतवाली जौनपुर के जहांगीराबाद निवासी ठेकेदार रामानंद गुप्ता ने नगर पालिका में अपने लंबित भुगतान के लिए ईओ पवन कुमार से संपर्क किया। ईओ ने प्रथम किस्त दस लाख रुपये जारी करने के एवज में साढ़े 16ह प्रतिशत कमीशन की मांग की।

सिंह ने बताया कि उन्होंने (ईओ ने) इसके लिए लेखाधिकारी तारकेश्वर नाथ सिंह से मिलकर कमीशन राशि बतौर रिश्‍वत देने को कहा। ठेकेदार ने इसकी शिकायत एसीओ, वाराणसी से की।

शिकायत का संज्ञान लेते हुए एसीओ टीम आज जौनपुर पहुंची और पूरी योजना तैयार कर रिश्वत की राशि एक लाख 65 हजार रुपये लेखाधिकारी तारकेश्वर सिंह को देने के लिए कहा।

उन्‍होंने बताया जब ठेकेदार रिश्‍वत की राशि देने लगा तो लेखाधिकारी के इशारे पर वहां मौजूद लिपिक शनी बाल्मीकि ने बैग पकड़ा। इस दौरान टीम ने रंगे हाथ दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

एसीओ प्रभारी ने बताया कि टीम दोनों को लेकर लाइन बाजार थाने गई।

भाषा सं आनन्‍द खारी

खारी

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers