वोडाफोन ने इंडस टावर्स में 18 प्रतिशत हिस्सेदारी 15,300 करोड़ रुपये में बेची |

वोडाफोन ने इंडस टावर्स में 18 प्रतिशत हिस्सेदारी 15,300 करोड़ रुपये में बेची

वोडाफोन ने इंडस टावर्स में 18 प्रतिशत हिस्सेदारी 15,300 करोड़ रुपये में बेची

:   Modified Date:  June 19, 2024 / 06:55 PM IST, Published Date : June 19, 2024/6:55 pm IST

नयी दिल्ली, 19 जून (भाषा) ब्रिटेन की दूरसंचार कंपनी वोडाफोन ने टावर कारोबार से जुड़ी इंडस टावर्स में 18 प्रतिशत हिस्सेदारी 1.7 अरब यूरो (लगभग 15,300 करोड़ रुपये) में बेच दी है।

वोडाफोन ने बुधवार को कहा कि वह इस राशि के बड़े हिस्से का उपयोग भारत में कंपनी की परिसंपत्तियों के एवज में बैंक से लिए गए 1.8 अरब यूरो के बकाया ऋण का भुगतान करने में करेगी।

वोडाफोन ने एक बयान में कहा, “वोडाफोन ग्रुप पीएलसी ने इंडस टावर्स लिमिटेड में 48.47 करोड़ शेयर बेच दिए। ये शेयर इंडस की शेयर पूंजी का 18 प्रतिशत हैं।”

कंपनी ने कहा, “इस बिक्री से 153 अरब रुपये (1.7 अरब यूरो) की सकल आय हुई है। इस राशि का विशेष तौर पर इस्तेमाल वोडाफोन की भारतीय परिसंपत्तियों पर बैंकों से लिए गए 1.8 अरब यूरो के बकाया कर्ज को चुकाने में किया जाएगा।”

इस शेयर बिक्री के बाद इंडस टावर्स में वोडाफोन की हिस्सेदारी घटकर 3.1 प्रतिशत रह गई है।

इस बीच, भारती एयरटेल ने लगभग 2.69 करोड़ शेयरों के अधिग्रहण के साथ इंडस टावर्स में अपनी हिस्सेदारी एक प्रतिशत बढ़ा ली है।

एयरटेल ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा, “इंडस टावर्स के 2.7 करोड़ शेयरों के अधिग्रहण के लिए विशेष समिति के अनुमोदन के बाद कंपनी ने बाजार में लगभग 2.69 करोड़ यानी एक प्रतिशत इक्विटी शेयरों का अधिग्रहण किया है।”

इस सौदे के साथ, इंडस टावर्स में एयरटेल की हिस्सेदारी 47.95 प्रतिशत से बढ़कर 48.95 प्रतिशत हो गई है।

भाषा अनुराग प्रेम

प्रेम

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers