सीएम-पूर्व सीएम के बीच शिलान्यास पत्थर पर वार- पलटवार, मुख्यमंत्री ने कहा- गलती सुधारने किए जा रहे प्रयास

 Edited By: Rupesh Sahu

Published on 13 Aug 2019 05:30 PM, Updated On 13 Aug 2019 05:30 PM

रायपुर। सीएम भूपेश बघेल आज नवा रायपुर का दौरा किया। वे यहां सेक्टर-24 में बनने वाले सीएम आवास, राजभवन की जगह का जायजा लने पहुंचे थे। बता दें पिछले दिनों चार मंत्रियों ने भी इस इलाके का दौरा कर निरीक्षण किया था।

ये भी पढ़ें- परिवहन मंत्री ने पार्टी कार्यकर्ताओं से की मुलाकात, जानिए किन मुद्द...

नवा रायपुर के दौरे में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल उस शिलान्यास पत्थर को देखने पहुंचे जिस पर पूर्व सीएम रमन सिंह ने दुर्भावना का आरोप लगाया था। सीएम भूपेश बघेल ने कहा जिस जगह सोनिया गांधी के हाथों से लोकार्पण पत्थर लगाया गया
उस जगह को भी रमन सिंह ने संस्था को आवंटित कर दिया । इस गलती को कैसे सुधारा जा सकता है, इसे देख रहे हैं ।

ये भी पढ़ें- उत्सव मेला संचालक ने नाबालिग बच्चे को बेरहमी से पीटा, वजह जानकर आप ...

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि  नवा रायपुर लेक के बगल की जमीन प्राइवेट बिल्डरों को रमन सिंह ने सौंप दी है। सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि 5 सालों तक बंदरबांट चलता रहा है।

ये भी पढ़ें- हर मंगलवार विधायकों व सांसदों से मिलेगें सीएम, रायपुर निवास में दोप...

बता दें कि सीएम बघेल ने नवा रायपुर को बसाने की ठानी है। नवा रायपुर में लोगों की बसाहट बढ़े इसलिए सबसे पहले उन्होंने विधायकों और मंत्रियों को नवा रायपुर में बसाने का ऐलान किया है। सीएम के मुताबिक विधायक और मंत्रियों के बसने से वहां लोगों की आवाजाही बढ़ेगी। धीरे-धीरे लोग भी वहां बसना शुरू करेंगे।

ये भी पढ़ें- तीन दोस्तों ने मिलकर पहले छात्रा से किया गैंगरेप, फिर उतार दिया मौत...

गौरतलब है नवा रायपुर में हाउसिंग बोर्ड के मकान बनकर तैयार है। वहां कुछ मकान ही बिके हैं, जबकि कई मकान और प्लॉट खाली पड़े हैं। रायुपर से दूरी और सुनसान होने की वजह से कोई वहां रहना पसंद नहीं कर रहा। इसलिए सरकार को राजस्व की भी हानि हो रही है। इसकी गंभीरता को देखते हुए सीएम बघेल ने विधायकों और मंत्रियों को नवा रायपुर में सबसे पहले बसाने का ऐलान किए हैं।

Web Title : Between CM-Ex CM Foundation stone Counter charges, Efforts are being made to rectify the mistake

जरूर देखिये